«

»

May
02

गढ़वळि साहित्यौ रंत- रैबार (News about Garhwali Literature )

१-शैलवाणी , हिंदी सतवाडा(साप्ताहिक) कोटद्वार- ८/६/२०१२ क सोळि मा सुन्दर लाल जोशी क गढ़वळि कथा ‘मरी कन भी म्यार जगर्या की मुंडी रैली ऐंच ही ‘ छपीं च. कन्हयालाल दंद्रियालाई ‘गढवाली शब्दकोष’ स्तम्भ बरोबर छपेणु च. इनी भीष्म कुकरेती क स्तम्भ ‘कथा संसारोऊ कथा’ बि छपेणु च. उर्मिल काल़ा की ‘रो मेरी डंडेल़ी ‘ (प्रवास से उजड्या कूड सम्बन्धित) कविता बि छपीं च

२-रंत रैबार , गढ़वळि सतवाडा (साप्ताहिक ) ४/६/२०१२, मा खबर छन, संपादकीय च अर साहित्य मा एक च्बोड्या रिखड़ा चित्र, इश्वरी प्रसाद उनियालो स्तम्भ- नरेंद्र सिंग नेगी क गीतुं विवेचना, संदीप रावत क लेख ‘कनक्वे होली लोकभाषाओं की भाल्यार’ , नरेंद्र कठैत क चाख्न्योर्या लेख, प्रकाश धष्माना क स्तम्भ ‘चकडैत उवाच’ छ्प्युं च . दगड मा दयानंद बहुगुणा , प्रेम बल्लभ पुरोहित, डा सुरेन्द्र दत्त सेमाल्टी क , काली प्रसाद घिल्डियाल की कविता अर , बी.मोहन नेगी क बणयूँ नरेंद्र सिंग नेगी क कविता पोस्टर छन

३-निराला उत्तराखंड, हिंदी सतवाडा, जयपुर १६-३० जूं २०१२ मा बी.मोहन नेगी क बणयूँ सुदामा प्रसाद को कविता पोस्टर, भीष्म कुकरेती द्वारा प्रस्तुत ‘गढ़वाल का मन्त्र’ अर कुकरेती क इ कुमाउनी-गढ़वाली- नेपाली व्याकरण का तुलनात्मक अध्ययन’ छन.

४-खबर सार, गढ़वळि सतवाडा, पौड़ी १-मई से १५ मई २०१२ मा खब्रु आर संपादकीय कु अलावा संदीप रावत कु लेख ‘असम अर केरल से सीखा भाषों तै ऐथर बढौण ‘ लेख, बालेन्दु बडोला क समळौण्या लेख, त्रिभुवन उनियाल् आर नरेन्द्र कठैत की चबोड, c, वीरेन्द्र पन्वार् कि उमर बुणदि जा’ किताबे समीक्षा अर बी.मोहन नेगी क बणयूँ रामेश्वरी नेगी क कविता पोस्टर छन,

इन्टरनेट कि खबर

अच्काल चूंकि गीतेश नेगी अपण ब्यौ ९२९ जून २०१२) मा व्यस्त च त वैकी क्वी कविता नि दिखेन. 

!!!!!बधाई गीतेश नेगी जी !!!!

नरेंद्र गौनियाल कि तकरीबन रोजाना एक कविता छपेणि छन.

बाल कृष्ण ध्यानी क कविता लगातार छपेणि छन

विजय गौड़ भी कविता क्षेत्र मा सक्रिय च

महेंद्र राणा कि कविता बि छपेणि छन

अच्काल, पराशर गौड़ , जगमोहन जयारा, विनोद जिठुड़ी, सैत च सियाँ छन

सुनीता शर्मा अर अनूप रावत सरीखा नवाड़ी लिख्वारु से भौत बडी उम्मेद ह्व़े ग्याई

भीष्म कुकरेती बि क्वी क्वी लेख भेज्दु च (अन्ग्रेजि मा गढ़वळि साहित्यौ समीक्षा रोज चलणा छन)

मदन डुकलाण कि गजल अर शान्ति प्रकाश का ‘छिटगा’ क फेस बुक , इन्टरनेट मेल मा खूब बडै ह्वाई

मुजीब नैथाणी क काम कि बडे होण इ चयेंद बल हिंदी क बीच बीच मा गढ़वळी शब्दू से पढ़ण वाळ गढवळी से परिचित हूणा छन

कुछ भितरै खबर

ओम प्रकाश सेमवाल अपण कथा खौळ (संग्रह) छपाणो तैयारी मा च

मदन डुकलाण बृहद गढवाली कविता खौळ ‘अंग्वाळ ‘ छपाणो तैयारी मा च

मदन डुकलाण को नयो कविता खौळ बि छ्पेक तैयार इ च

हरीश जुयाल को गद्य व्यंग्य संग्रह छपेणो तैयार च

गिरीश सुन्द्रियालो नाटक छपणो तैयार च

सुणण मा आई कि शान्ति प्रकाश अपण छिटगौ संग्रह छपाणो बान व्यस्त छन

इनी सुणण मा ऐ कि वीरेन्द्र पंवार इंटरव्यू संगर छपाणो तैयारी मा व्यस्त हूण वाळ छन

पूरण पंत पथिक को ओप्रेसन सफल राई अर अब स्वास्थ्य लाभ करणा छन .

इश्वरी प्रसाद न दैनिक गढ़वाली समाचार पत्र १५ अगस्त से शुरू कणो बयान दे.

खबर्या -भीष्म कुकरेती

Copy Protected by Chetans WP-Copyprotect.