«

»

Nov
16

गौड़ी अर भूत की लोककथा

गौड़ी अर भूत
-
लोक कथा संकलन : आचार्य भीष्म कुकरेती

कथा सुणाण वळ : स्व श्री बलदेव प्रसाद रघुवर दत्त कुकरेती ‘मास्टर जी ‘ (जसपुर ढांगू )

कुज्याण कथगा साखी पैला छ्वीं छन धौं। एक सुखी गौं छौ। इ राम दा तब बल सुखी रौंद छा बल। इन बुल्दन बल एक दैं भूतुं रौळ बौळ मची गे। भूत लोकुं तैं डरावन अर चैन छीन द्यावन। दिन रात बस भूतूं आतंक बस आतंक।

हरेक मौन भूत भजाणो बान क्या जतन नि कार हरेकन अपण पंडी जी से पूजा कराई ंचाई क्या इख तलक बल कुखुड़ मारिन पर इन भुभरड़ जम बल भतूं पर फरक नि पोड़ उल्टां तौंक डराण बढ़ इ गे।

लोग कवौंम गेन बल सौ सायता कारो। कवौंन भूतुं तै डराई धमकाई क्या मुठकाई पर केक डौर भूत और बि उच्छेदी ह्वे गेन अब त यी बुड्यों तै बि डराण मिसे गेन। लोकुंन काखड़ , बिरळ क्या स्याळुं से सौ सायता मांग पर कुछ नि ह्वे भूतुं उत्पात बढ़दो जि गे।

तब सब गौड्यूंम गेन तै बचाओ। गौड्यूंन सांत्वना दे बल सि सब भूत भगाला। सब गौड़ी गांवक सरद (सीमा ) पर खड़ ह्वे गेन। जनि भूत ऐन तनि गौड्युंन भूतुं समिण शर्त रख दे बल यदि तुम हम मादे कै बि गौड़ी पूछो बाळ गण देल्या त तुम गाँव भितर प्रवेश कौर सकदा निथर प्रवेश बंद।

भूत भूत ही ठैर ऊंन शर्त मानी अर ले एक गौड़ी पूछो बाळ गणन लगी। केक गणन अर क्यांक गणन। एक जब तलक कुछ बाळ गौणो गौड़ी पूछ हलै द्यावो या भूत गणती भूल जावन। पता नी बल कै गैणा रात खुलिन धौं पर भूत एक इ गौड़ीक पूछो बाळ नि गौण सकिन। हौर गौड़ुं बात त जाणी द्यावो एक गौड़ी से इ चकर खै गेन भूत। भूतुंन हार मान दे बल।

भूत डौरन गाँव छोड़ि इ नि गेन बल्कणम गौड्युं से वादा कौरिक बि चल गेन तब बिटेन कबि बि क्वी मनिख गौड़ी पर लग्युं हो तो वैपर कबि बि भूत नि लगल बल।

संदर्भ

भीष्म कुकरेती (1984 ) गढ़वाल की लोक कथाएं , बिनसर प्रकाशन , नई दिल्ली -3 , पृष्ठ 33 -34

Interpretation Copyright@ Acharya Bhishma Kukreti, 2018

Folk stories about Ghosts from Pauri Garhwal South Asia ; Folk stories about Ghosts from Chamoli Garhwal, South Asia ; Folk stories about Ghosts from Rudraprayag Garhwal, South Asia ; Folk stories about Ghosts from Tehri Garhwal; Folk stories about Ghosts from Uttarkashi Garhwal, South Asia ; Folk stories about Ghosts from Dehradun Garhwal; Folk stories about Ghosts from Haridwar Garhwal, South Asia ; Folk stories about Ghosts from Garhwal, South Asia
पौड़ी गढ़वाल की भूत संबंधी लोक कथाएं ; चमोली गढ़वाल की भूत संबंधी लोक कथाएं ; रुद्रप्रयाग गढ़वाल की भूत संबंधी लोक कथाएं ; टिहरी गढ़वाल की भूत संबंधी लोक कथाएं ; उत्तरकाशी गढ़वाल की भूत संबंधी लोक कथाएं ; देहरादून गढ़वाल की भूत संबंधी लोक कथाएं ;

Copy Protected by Chetans WP-Copyprotect.