«

»

Feb
08

सेनापति अथवा बलध्याक्ष

सेनापति अथवा बलध्याक्ष
Baladhyaksha or Army Chief in Paurava Kingdom
हर्षवर्धन पश्चात बिजनौर , हरिद्वार , सहारनपुर का ‘अंध युग’ अर्थात तिमर युग इतिहास- 14

Paurava dynasty in Dark/ Early Middle Age of History of Haridwar, Bijnor , Saharanpur 14

Ancient History of Haridwar, History Bijnor, Saharanpur History Part – 291

हरिद्वार इतिहास , बिजनौर इतिहास , सहारनपुर इतिहास -आदिकाल से सन 1947 तक-भाग – 291

इतिहास विद्यार्थी ::: भीष्म कुकरेती
-
पौरव वंश के शासनों से निम्न जानकारियां मिलती है।
सेनाध्यक्ष – सेना का सर्वोच्च अधिकारी का पद बलाध्यक्ष होता था। बलाध्यक्ष के आधीन तीन विभाग थे -गज सेना का अधिकारी गजपति , अश्व सेना का अधिकारी , गजरोहि का अधिकारी -अश्वपति व पैदल सेना का अधिकारी -जयनपति।
पीलुपति गजशालाओं व अश्वशालों का प्रबंध करता था।
संधिविग्रहिक पदाधिकारी का कार्य युद्ध व संधि विमर्श व कार्य प्रबंधन करन होता था (1 )

सन्दर्भ :

1- Dabral, Shiv Prasad, (1960), Uttarakhand ka Itihas Bhag- 3, Veer Gatha Press, Garhwal, India page 418

Copyright@ Bhishma Kukreti , 2019

Army Chief in Paurava Kingdom, History of Haridwar; Army Chief in Paurava Kingdom, History of Kankhal , Haridwar; Army Chief in Paurava Kingdom, History of Jwalapur , Haridwar; Army Chief in Paurava Kingdom, History of Rurki Haridwar; Army Chief in Paurava Kingdom, History of Haridwar; Army Chief in Paurava Kingdom, History of Laksar , Haridwar; Army Chief in Paurava Kingdom, History of Saharanpur; Army Chief in Paurava Kingdom, History of Behat , Saharanpur; Army Chief in Paurava Kingdom, History of Saharanpur; Army Chief in Paurava Kingdom, History of Nakur, SaharanpurArmy Chief in Paurava Kingdom, History of Devband , Saharanpur; Army Chief in Paurava Kingdom, History of Bijnor ; Army Chief in Paurava Kingdom, History of Bijnor ; Army Chief in Paurava Kingdom, History of Nazibabad , BijnorArmy Chief in Paurava Kingdom, History of Bijnor; Army Chief in Paurava Kingdom, History of Nagina Bijnor ; Army Chief in Paurava Kingdom, History of Dhampur , Bijnor ; Army Chief in Paurava Kingdom, History of Chandpur Bijnor ;
कनखल , हरिद्वार इतिहास में पौरव राज्य में सेनापति ; ज्वालापुर हरिद्वार इतिहास में पौरव राज्य में सेनापति ;रुड़की , हरिद्वार इतिहास में पौरव राज्य में सेनापति ;लक्सर हरिद्वार इतिहास में पौरव राज्य में सेनापति ;मंगलौर , हरिद्वार इतिहास में पौरव राज्य में सेनापति ; बहादुर जुट , हरिद्वार इतिहास में पौरव राज्य में सेनापति ;सहरानपुर इतिहास में पौरव राज्य में सेनापति ;देवबंद , सहरानपुर इतिहास में पौरव राज्य में सेनापति ;बेहट , रामपुर , सहरानपुर इतिहास में पौरव राज्य में सेनापति ;बाड़शाह गढ़ , सहरानपुर इतिहास में पौरव राज्य में सेनापति ; नकुर , सहरानपुर इतिहास में पौरव राज्य में सेनापति ;
बिजनौर इतिहास में पौरव राज्य में सेनापति ; धामपुर , बिजनौर इतिहास में पौरव राज्य में सेनापति ; नजीबाबाद , बिजनौर इतिहास में पौरव राज्य में सेनापति ; नगीना , बिजनौर इतिहास में पौरव राज्य में सेनापति ; चांदपुर , बिजनौर इतिहास में पौरव राज्य में सेनापति ; सेउहारा बिजनौर इतिहास में पौरव राज्य में सेनापति ;

Copy Protected by Chetans WP-Copyprotect.