«

»

Aug
08

ढांगळ (उदयपुर, पौड़ी गढ़वाल ) में दिगम्बर कुकरेती के जंगलेदार मकान में काष्ठ कला अलंकरण, लकड़ी नक्कासी

 

ढांगळ (उदयपुर, पौड़ी गढ़वाल ) में    दिगम्बर  कुकरेती  के  जंगलेदार मकान में काष्ठ कला अलंकरण, लकड़ी नक्कासी 

गढ़वाल,  कुमाऊँ , उत्तराखंड , हिमालय की भवन  (तिबारी, निमदारी , जंगलादार  मकान , बाखली  , बखाई ,  खोली  ,   कोटि बनाल   )  में काष्ठ कला अलंकरण, लकड़ी नक्कासी– 242

 संकलन -भीष्म कुकरेती

ढांगळ  उदयपुर पट्टी का एक विशेष गाँव है जो कोटद्वार में  कुकरेती व्यवसायी परिवारों के कारण  पूरे गढ़वाल में भी प्रसिद्ध गाँव है।  आज  ढांगळ (उदयपुर, पौड़ी गढ़वाल ) में एक जंगलेदार मकान में काष्ठ  कला पर चर्चा होगी।

प्रस्तुत मकान  दुपुर -दुखंड है।  मकान की पहली मंजिल के लम्बे बरामदे पर लकड़ी का जंगला बंधा है।  जंगल पहली मंजिल में स्थापित है।  जंगल में पंद्रह स्तम्भ /खाम /खम्भे हैं।  स्तम्भ ों के  आधार पर कुछ ऊंचाई तक  दोनों ओर पट्टिका लगीं है।  स्तम्भ आधार से सीधे ऊपर जाते हैं।  ऊपर शीर्ष /कड़ी में हर ख्वाळ ( दो स्तम्भ के मध्य स्थान  )  में तोरणम जैसे आकृति निर्मित है।  लम्बे जंगल में कुल पंद्रह स्तम्भ हैं

दिगम्बर कुकरेती  के       में स्तम्भ व शीर्ष /मुरिन्ड कड़ी में तोरणम आकृति  छोड़  कोई  उल्लेखनीय कला दृष्टिगोचर नहीं होती है।  जंगलेदार मकान  आधुनिक,  मकान भड़कीला नहीं है व भव्य किस्म का है.. कहा जा सकता है कि  मकान में ज्यामितीय कटान ही मुख्य कला है।

सूचना व फोटो आभार : अभिषेक कुकरेती , ढांगळ 

यह लेख  भवन  कला संबंधित  है न कि मिल्कियत हेतु . मालिकाना  -भौगोलिक  जानकारी  श्रुति से मिलती है अत: अंतर हो सकता है जिसके लिए  सूचना  दाता व  संकलन कर्ता  उत्तरदायी  नही हैं .

Copyright @ Bhishma Kukreti, 2020

गढ़वाल,  कुमाऊँ , उत्तराखंड , हिमालय की भवन  (तिबारी, निमदारी , जंगलादार  मकान , बाखली  , कोटि बनाल   ) काष्ठ  कला अंकन, लकड़ी पर नक्कासी   श्रृंखला 
  यमकेशर गढ़वाल में तिबारी , निम दारी , जंगलेदार  मकान , बाखली में काष्ठ कला , नक्कासी ;  ;लैंड्सडाउन  गढ़वाल में तिबारी , निम दारी , जंगलेदार  मकान , बाखली में काष्ठ कला , नक्कासी ;दुगड्डा  गढ़वाल में तिबारी , निम दारी , जंगलेदार  मकान , बाखली में काष्ठ कला , नक्कासी ; धुमाकोट गढ़वाल में तिबारी , निम दारी , जंगलेदार  मकान , बाखली में काष्ठ कला ,   नक्कासी ;  पौड़ी गढ़वाल में तिबारी , निम दारी , जंगलेदार  मकान , बाखली में काष्ठ कला , नक्कासी ;

  कोटद्वार , गढ़वाल में तिबारी , निम दारी , जंगलेदार  मकान , बाखली में काष्ठ कला , नक्कासी ;

Copy Protected by Chetans WP-Copyprotect.