«

»

Oct
21

पूर्वालगांव (घनसाली , टिहरी गढ़वाल ) में मालदत्त तिवारी परिवार के भवन में काष्ठ कला, अलकंरण, उत्कीर्णन, अंकन


पूर्वालगांव (टिहरी गढ़वाल ) भवन काष्ठ कला 

पूर्वालगांव (घनसाली , टिहरी गढ़वाल ) में मालदत्त तिवारी परिवार के भवन में काष्ठ  कला, अलकंरण, उत्कीर्णन, अंकन
        भवन में पारम्परिक गढवाली शैली की काष्ठ  कला, अलकंरण, उत्कीर्णन, अंकन

 

Traditional House Wood Carving Art of, Purvalganv , Ghansali , Tehri

गढ़वाल  भवनों (तिबारी, जंगलेदार निमदारी, बाखली, खोली, मोरी, कोटिबनाल ) में पारम्परिक गढवाली शैली की काष्ठ  कला, अलकंरण, उत्कीर्णन, अंकन-534

-

संकलन - भीष्म कुकरेती  

 

 

पूर्वालगांव  के मालदत्त तिवारी का प्रस्तुत भवन तिमंजिला (तिपुर ) है व भवन  के प्रथम व द्वितीय मंजिलों में में दो तिबारियां हैं।

पूर्वालगांव (घनसाली , टिहरी गढ़वाल ) में मालदत्त तिवारी परिवार के भवन के तल मंजिल के कमरों , उनके सिंगाड़ों , द्वारों , मरिंडों /मथिण्डों में सपाट ज्यामितीय कटान की लकड़ी लगीं हैं।  पहले मंजिल की दो तिबारियां हैं जिनके चार चार सिंगाड़ (स्तम्भ ) हैं।  प्रत्येक स्तम्भ के आधार में  क्रमशः उलटे कमल दल व सीधे कमल दल के अंकन से प्राप्त कुम्भियाँ है व ऊपर  सिंगाड़ सपाट हैं।  तिबारी शीर्ष /header में कोई तोरणम नहीं हैं व कड़ियाँ सीधी हैं। तिबारी के शीर्ष में देव मूर्ति स्थापित हैं संभवता धातु की हैं।  

दूसरे मंजिल में भी दो दो तिबारियां हैं एक के स्तम्भ प्रथम तल के सिंगाड़ों की प्रतिरूप हैं किन्तु दूसरी तिबारी के सिंगाड़ चौखट हैं।  दोनों तिबारियों के बाहर जंगले बंधे हैं व  सामने से बांयें वाले   जंगले के मुख्य स्तम्भ भी तिबारी के स्तम्भ की प्रतिरूप हैं किन्तु दांयें वाली तिबारी के समनुक्ख जंगले  के मुख्य स्तम्भ सपाट  हैं।  

निष्कर्ष निकलता है कि पूर्वालगांव  के मालदत्त तिवारी के प्रस्तुत भवन में ज्यामितीय , प्राकृतिक (बहुत कम व दृष्टिगोचर कम हो रहा है ) अलंकरण अंकन हुआ है।

  सूचना व फोटो आभार: मधुर वादनी तिवारी    

यह आलेख कला संबंधित है , मिलकियत संबंधी नही है I   भौगोलिक स्तिथि और व भागीदारों  के नामों में त्रुटि   संभव है I

Copyright @ Bhishma Kukreti, 2020

गढ़वाल, कुमाऊं , देहरादून , हरिद्वार ,  उत्तराखंड  , हिमालय की पारम्परिक भवन  (तिबारी, जंगलेदार निमदारी  , बाखली , खोली , मोरी कोटि बनाल ) काष्ठ  कला  , अलकंरण , अंकन लोक कला  घनसाली तहसील  टिहरी गढवाल  में   पारम्परिक भवन काष्ठ कला  ;  टिहरी तहसील  टिहरी गढवाल  में  भवन काष्ठ कला , ;   धनौल्टी,   टिहरी गढवाल  में  पारम्परिक  भवन काष्ठ कला, लकड़ी नक्काशी ;   जाखणी  तहसील  टिहरी गढवाल  में  भवन काष्ठ कला;   प्रताप  नगर तहसील  टिहरी गढवाल  में  भवन काष्ठ कला, नक्काशी ;   देव प्रयाग    तहसील  टिहरी गढवाल  में  भवन काष्ठ कला, ; Traditional House Wood carving Art from  Tehri;

Copy Protected by Chetans WP-Copyprotect.