«

»

Nov
09

कुर्बानी

एक आदमी ने अपने ड्राबिंग लासिंस में ये लिखा था की अगर मै किसी अकास्मिक दुर्घटना में मर गया तो मेरे सारे औरगन डोनिट
कर दिये जाए ! अचानक वो दुर्घटना में जाता रहा और जो सबसे पहले उन समय लाइन में था, वो था , एक साराबी ! जिसका फेफड़ा पीने के कारण बुरी तरह से डैमेज हो चुका था ! उसका फेफड़ा निकाल कर उस शराबी पर लगाया गया ! जब वो होश में आया तो उसके अंदर के और ऑर्गन भी होस में आ गए !
सब ने एक साथ पुछा –” अरे वो फेफड़े भाई हम सब तो बहार जाने की तयारी कर रहे थे तू यहा क्यूँ चला आया ?”

वो बोला … ” तुम्हारे लिए !”
वो बोले .. वो कैसे ?
फेफड़ा बोला – ” अरे मूर्खो, बाहर काहा जाओगे ! यहां तो एक ही सराबी है बाहर तो एक नही हजारो शराबी है किस किस से लड़ोगे ! वो बोला चलो सब मिलकर येक काम करते है पहले इसे ठीक करते है फिर देखते है ! सब ने कहा की ठीक है सब अपना अपना काम करने लगे , वो शराबी धीरे धीरे ठीक होने लगा ! जब वो ठीक हो गया तो उसे शराब छोड़ने वाली संस्था का राजदूत बना दिया गया तो उसने की शराबियो के शराब छुडवादी ! ये देख कर सब आर्गन बोले – ” यार फेफड़े भाई , हम तो शराब के नशे में थे ! हमे तो इतना पता था की इसके बाद कोइ दुनिया है नहीं .. तूने हमें एक नया रास्ता दिखा दिया .. तेरी कुर्बानी धन्य है
Copy Protected by Chetans WP-Copyprotect.