Tag Archive: विधि

Apr
06

मानसिक तनाव से दूर रौणै   विधि  

  मानसिक तनाव से दूर रौणै   विधि संहितौ सर्व प्रथम  गढ़वळि  अनुवाद      खंड – १  सूत्रस्थानम ,  अटों   अध्याय ((इन्द्रियोपक्रमणीय )  पद  २८   बिटेन  – तक  अनुवाद भाग -   ६७  गढ़वालीम  सर्वाधिक  अनुवाद करण  वळ अनुवादक  – आचार्य  भीष्म कुकरेती    ( अनुवादम ईरानी , इराकी अरबी शब्दों  वर्जणो  पुठ्याजोर ) – !!!  म्यार गुरु  श्री …

Continue reading »

Copy Protected by Chetans WP-Copyprotect.