Tag Archive: शोक भाव अभिनय

Dec
04

शोक भाव अभिनय / शोक भावक पाठ खिलण

  –    शोक भाव अभिनय / शोक भावक पाठ खिलण  Grief Sentiment in Dramas   भरत नाट्य  शास्त्र  अध्याय – 6: रस व भाव समीक्षा भरत नाट्य शास्त्र गढवाली अनुवाद शास्त्री  – भीष्म कुकरेती  – सस्वनरुदिताक्रांदितदीर्घानि: श्वसितजडतोन्मादमोहमरणादिभिरनुभावैरभिनय: प्रयोक्तव्य:  I (७। १० को परवर्ती कारिका ) शोक भावक पाठ खिलणो  कुण शनैः शनैः  रूण , कबि कबि किराण,कबि लम्बी सांस लीण /उसासी लीण , कबि जम …

Continue reading »

Copy Protected by Chetans WP-Copyprotect.