Tag Archive: Children Folk dramas garhwal

Oct
14

बच्चों द्वारा रामलीला पुनरावृति: कुमाऊं -गढ़वाल में लोक नाट्य मंचन उदाहरण

बच्चों द्वारा रामलीला पुनरावृति: कुमाऊं -गढ़वाल में लोक नाट्य मंचन उदाहरण लोकनाट्य विश्लेषक – भीष्म कुकरेती लोक नाटक मनुष्य सभ्यता का एक अंग है। जहां भी मनुष्य होंगे वहां लोक नाटक स्वयं जन्म ले लेते हैं। उत्तराखंड के पर्वतीय क्षेत्र कुमाऊं -गढ़वाल लोक नाटकीकरण से अछूते नहीं हैं। लोक नाटक मंचन की विशेषता बल लोक …

Continue reading »

Copy Protected by Chetans WP-Copyprotect.