Tag Archive: Devbhoomi Uttarakhand

Oct
18

उत्तराखंड में मेडिकल पर्यटन की संभावनाएं

डॉ बलबीर सिंह रावत ऐतिहासिक पुस्तकें तथ्य बताते हैं की प्राचीन समय से ही उत्तराखंड स्वास्थ्य पर्यटन का केंद्र रहा है. उत्तराखंड की जलवायु स्वयम में स्वास्थ्य का पर्याय होने का बोध कराती है। शीतल और शुद्ध वायु, धरती से छन कर, विभिन्न जडी बूटियों के रस युक्त आता चश्मों का जल, हरेभरे पेड़ पौधों …

Continue reading »

Sep
22

कोट की माई का मेला

images (1)

कोट की माई का मंदिर अल्मोड़ा से ग्वालदम जानेवाले रास्ते पर बैजनाथ से ३ कि.मी. की दूरी पर ऊँची चोटी पर स्थित है । यहाँ पहुँचने के लिए १ से ११/२ कि.मी. की खड़ी चढ़ाई चढ़नी पड़ती है । रणचूला नाम से विख्यात इस स्थान पर कभी कत्यूरी राजाओं ने अपना किला बनवाया था । गढ़वाल …

Continue reading »

Sep
20

मोष्टामाणू का मेला – जनपद पिथौरागढ़

9142525

पिथौरागढ़ जनपद मुख्यालय के चतुर्दिक फैले ग्रामीण क्षेत्रों में तीन प्रसिद्ध मेलों का प्रतिवर्ष आयोजन किया जाता है । भाद्रपद की गणेश चतुर्थी को ध्वज नामक पहाड़ की चोटी पर देवी मेला लगता है । इसके दूसरे दिन हरियाली तृतीया को किरात वेश में रहने वाले भूमि के स्वामी केदार नाम से पूजित शिव के …

Continue reading »

Sep
20

उत्तराखंड का प्रसिद्द मेला :- नंदादेवी मेला

nanda-devi-mela-almora-chetan-kapoor

समूचे पर्वतीय क्षेत्र में हिमालय की पुत्री नंदा का बड़ा सम्मान है । उत्तराखंड में भी नंदादेवी के अनेकानेक मंदिर हैं । यहाँ की अनेक नदियाँ, पर्वत श्रंखलायें, पहाड़ और नगर नंदा के नाम पर है । नंदादेवी, नंदाकोट, नंदाभनार, नंदाघूँघट, नंदाघुँटी, नंदाकिनी और नंदप्रयाग जैसे अनेक पर्वत चोटियाँ, नदियाँ तथा स्थल नंदा को प्राप्त …

Continue reading »

Sep
19

गणेश चतुर्थी व्रत कथा

ganesh_chaturthi

देवताओं में सिर्फ गणेश जी को सर्वप्रथम पूज्यनीय होने का गौरव प्राप्त है| महादेव शिव और पार्वती के पुत्र गणेश को संकटमोचक, विघ्नहर्ता कहा जाता है| वजह है गणेश जी का प्रथम पूज्नीय और विघ्न हरने की क्षमता. आज संकष्टी गणेश चतुर्थी है| भाद्रपद मास की कृष्ण पक्ष की चतुर्थी को संकष्ट चतुर्थी या विनायक …

Continue reading »

Older posts «

Copy Protected by Chetans WP-Copyprotect.