Tag Archive: Folk Stories Mid Himalaya

Nov
13

आज खायी कखड़ी भ्वाळ खायी बखरी (सुल्ताना डाकू की कथा )

आज खायी कखड़ी भ्वाळ खायी बखरी (सुल्ताना डाकू की कथा ) कथा संकलन – आचार्य भीष्म कुकरेती कथा सुणाण वळि : स्व. श्रीमती श्रीमती सदानंद डबराल (डवोली , डबराल स्यूं ) . – दक्षिण गढ़वाळम इन गौं सैत क्वी नि ह्वालु जख सुल्ताना डाकू कथा प्रचलित नि रै होली। बुल्दा त इन छन बल अंग्रेजूं …

Continue reading »

Nov
12

चखुलुं अंडा फुड़णो पाप

चखुलुं अंडा फुड़णो पाप सलाणी लोककथौं जणगरु : आचार्य भीष्म कुकरेती कथा सुणाण वळि : श्रीमती दमयंती कलीराम कुकरेती (जसपुर ढांगू ) . – एक दैं मि अर मेरी मां धाणी जाणा था त एक छुटु बेडु डाळम चखुलो घोल देखि मीन नील आकर्षक अंडों पर हाथ लगै दे। आसपास चखुल चूं चूं करणा छा …

Continue reading »

Nov
09

एकेश्वर महादेव स्थापना कथा

एकेश्वर मंदिर थरपणै लोक कथा Folk Story about emerging Ekeshwar Temple सलाणी लोककथाजणगरु : आचार्य भीष्म कुकरेती कथा सुणाण वळ : श्री मदन मोलासी , पयासू , कफोळस्यूं , पौड़ी गढ़वाल। – या कथा प्रसिद्ध पट्टी चौंदकोट पट्टी क च। कफोळस्यूं म एक पहाड़ी मुंडेश्वर /मुन्डेशर म एक मंदिर च मुंडेश्वर मादेव मंदिर या खैरलिंग …

Continue reading »

Nov
06

जसपुर , ग्वील , ढांगळ अर ख्याड़ाक् कुकरेती बग्वाळ किलै नि मनांदन

जसपुर , ग्वील , ढांगळ अर ख्याड़ाक् कुकरेती बग्वाळ किलै नि मनांदन सलाणी लोककथौं जणगरु : भीष्म कुकरेती कथा सुणाण वळि : स्व.कुकरी देवी कुकरेती पत्नी स्व . शीशराम कुकरेती , जसपुर सामन्य तौर पर गढ़वाळम दिवाळी असलम गौपूजा त्यौहार च। गौपूजा ही लक्ष्मी पूजा च गढ़वाळम। गढ़वाळम दिवाळी मतबल चौदसी अर औँसी कुण सन्नी …

Continue reading »

Nov
03

खमण गांवम एक लखेड़ा मौक कूड़ पश्चिमोत्तर किलै च ?

खमण गांवम एक मौक कूड़ पश्चिमोत्तर किलै च ? सलाणी लोककथा बटोळदेर – भीष्म कुकरेती कथा सुणान्देर : श्री शिव चरण कुकरेती (कठूड़ ) व श्री सोहन लाल जखमोला (जसपुर मल्ला ढांगू , पौड़ी गढ़वाल ) दक्षिण गढ़वाल या कखि बि जु गांव तपड़ा या धारम ह्वावो त अधिकतर कूड़ दक्षिणोत्तर हूंदन या कबि कबि …

Continue reading »

Older posts «

Copy Protected by Chetans WP-Copyprotect.