Tag Archive: food

Jan
27

छांच छुळण खाणौ काम नी च (झळकां इतिहास )

Best of Garhwali Humor , Wits Jokes , गढ़वाली हास्य , व्यंग्य ) – छांच छुळण खाणौ काम नी च – छांच छुळै , मंथन ::: भीष्म कुकरेती छांच छुळण सरा दुनिया म हूंद पर भारत म कुछ जादा ही हूंद तबि त जौन सबसे अधिक संविधानै धज्जी उड़ैन वी विरोधी पार्टी मोदी की छांच …

Continue reading »

Jan
14

उत्तराखंड परिपेक्ष में लुण्या /जंगली कुल्फा की सब्जी ,औषधीय व अन्य उपयोग और इतिहास

उत्तराखंड परिपेक्ष में लुण्या /जंगली कुल्फा की सब्जी ,औषधीय व अन्य उपयोग और इतिहास History /Origin /introduction, Food uses , Economic Uses of Himalayan Purslane (Portulaca oleracea) in Uttarakhand context उत्तराखंड परिपेक्ष में जंगल से उपलब्ध सब्जियों का इतिहास -29 History of Wild Plant Vegetables , Agriculture and Food in Uttarakhand -29 उत्तराखंड में कृषि …

Continue reading »

Aug
31

Food Culture in British Garhwal

Food Culture in British Garhwal British Administration in Garhwal -170 – History of British Rule/Administration over Kumaun and Garhwal (1815-1947) -190 – History of Uttarakhand (Garhwal, Kumaon and Haridwar) -1022 – By: Bhishma Kukreti (History Student) . The work was so much that people used to go for agriculture work before down. They used to …

Continue reading »

Jan
21

उत्तराखंड परिपेक्ष में पपीता का भारत में इतिहास

उत्तराखंड परिपेक्ष में पपीता का भारत में इतिहास History Aspects of Papaya (Carica papaya ) Fruits in India in context Uttarakhand उत्तराखंड में कृषि व खान -पान -भोजन का इतिहास –69 History of Agriculture , Culinary , Gastronomy, Food, Recipes in Uttarakhand -69 आलेख : भीष्म कुकरेती उत्तराखंडी नाम -पपीता हिंदी नाम -पपीता जन्मस्थल – …

Continue reading »

Nov
27

तिमल /गूलर की सब्जी ,औषधीय व अन्य उपयोग

उत्तराखंड परिपेक्ष में तिमल /गूलर की सब्जी ,औषधीय व अन्य उपयोग और इतिहास History /Origin /introduction, Food uses , Economic Uses of Himalayan Fig (Ficus auriculata) in Uttarakhand context उत्तराखंड परिपेक्ष में जंगल से उपलब्ध सब्जियों का इतिहास -28 History of Wild Plant Vegetables , Agriculture and Food in Uttarakhand -28 उत्तराखंड में कृषि व …

Continue reading »

Older posts «

Copy Protected by Chetans WP-Copyprotect.