Tag Archive: Garhwali

Feb
02

डुबण वळि टीरी म पुरोहितुं समस्या

डुबण वळि टीरी म पुरोहिती की समस्या – रचना — महंत देवी प्रसाद नौटियाल (जन्म टिहरी , , टिहरी गढ़वाल ) Poetry by – Mahant Devi Prasad Nautiyal s = आधी अ ( विभिन्न युग की गढ़वाली कविताएँ श्रृंखला – 280 ) – इंटरनेट प्रस्तुति और व्याख्या : भीष्म कुकरेती – जिंदगी मंदिरों मा गुजारी …

Continue reading »

Jan
31

झिंकड़ कटणै , झिंकड़ घटणै , लगुल चड़ाणै लगाणै संस्कृति

झिंकड़ कटणै , झिंकड़ घटणै , लगुल चड़ाणै लगाणै संस्कृति

Jan
14

Pratibimb Barthwal: A Garhwali poet and Blogger

Pratibimb Barthwal: A Garhwali poet and Blogger (गढ़वाल, उत्तराखंड,हिमालय से गढ़वाली कविता क्रमगत इतिहास भाग -228 ) – (Critical and Chronological History of Garhwali Poetry, part -228) By: Bhishma Kukreti (Literature Historian) Pratibimb Barthwal is multitalented literature creator. Pratibimb Barthwal was born in 1964, Sirain village of Langur Patti, Pauri Garhwal, Uttarakhand. A graduate in …

Continue reading »

Jan
14

मुंबईम मकर संक्रांति मा खिचड़ी से बिरयानी यात्रा

मुंबईम मकर संक्रांति मा खिचड़ी से बिरयानी यात्रा – संस्कृति परिवर्तन दर्शक ::: भीष्म कुकरेती मनिख जब पलायन करद त कुछ दिन तलक अपण पुरातन संस्कृति बचाव मा जी जान लगै दींद। प्रथम कुछ साल वो भूतकाल तैं वर्तमान मा जीणै कोशिस करदो। अर यु मीन मुंबई मा गढ़वाल दर्शन मा दिख्युं च। गढ़वाल दर्शन …

Continue reading »

Jan
06

गिंदी म्याळा मा ‘स्टार वार ‘ याने बैरी दगड़ दुसमनात निकाळणो माध्यम ! (खेल भावना विरुद्ध हैंक पक्ष )

Best of Garhwali Humor , Wits Jokes , गढ़वाली हास्य , व्यंग्य ) – गिंदी म्याळा मा ‘स्टार वार ‘ याने बैरी दगड़ दुसमनात निकाळणो माध्यम ! (खेल भावना विरुद्ध हैंक पक्ष ) – हौंस इ हौंस मा किस्वळि लगाण ::: भीष्म कुकरेती – (चबोड़ चखन्यौ मा मेरी मनशा त रौंदी बल भविष्य जिनां छ्वीं …

Continue reading »

Older posts «

Copy Protected by Chetans WP-Copyprotect.