Sanju Pahari

Author's details

Name: Sanju Pahari
Date registered: September 24, 2011

Latest posts

  1. कुछ तो बात थी मेरे गाँव में — October 25, 2012
  2. श्रध्दा सुमन- गिरीश तिवारी ‘गिर्दा’ — August 19, 2012
  3. Uttarakhand Festival : Harela ‘हरेला’ — July 16, 2012

Most commented posts

  1. श्रध्दा सुमन- गिरीश तिवारी ‘गिर्दा’ — 2 comments

Author's posts listings

Oct
25

कुछ तो बात थी मेरे गाँव में

Kuch to baat thi mere gaanv mein

हर दिन बदलती ज़िन्दगी की दौड़ में, पल-पल बिगड़ती परिस्थितियों के दौर में… आकाश की उचाईयों को छूने की आस में, हर बार जीत पाने की अबूझ-सी प्यास में… अपनों से मीलों दूर…यहाँ है बस परछाई साथ में, निकलता हूँ घर से जब, लिए कुछ लकीरें हाथ में… सोचता हूँ, समझता हूँ, चाहता हूँ, पा …

Continue reading »

Aug
19

श्रध्दा सुमन- गिरीश तिवारी ‘गिर्दा’

श्री गिरीश चन्द्र तिवारी ‘गिर्दा’ (गिर्दा की कवितओं और गीतों का आनंद लेने के लिए फोटो पर क्लिक करें ) 9 सितम्बर 1945 – 22 अगस्त 2010 दुनिया से जानेवाले जाने चले जाते हैं कहाँ.. कैसे ढूंढें कोई उनको…नहीं क़दमों के भी निशाँ .. प्रसिद्ध रंगकर्मी व जनकवि गिरीश तिवारी ‘गिर्दा’ ने रविवार, 22 अगस्त 2010 को सुशीला तिवारी …

Continue reading »

Jul
16

Uttarakhand Festival : Harela ‘हरेला’

Harela : Uttarakhand Festival

Greetings to Bedupako.com members and supporters and heartiest thanks for staying connected. Today, on the auspicious occasion of Harela, Team Bedupako.Com conveys many wishes to you, your family & loved ones . As mother natures turns green, may your life fill with happiness in all spheres of life. Harela (हरेला) is a renowned Uttarakhandi festival celebrated in and around …

Continue reading »

Copy Protected by Chetans WP-Copyprotect.